WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now
Latest News

Raksha Bandhan 2022 Date : 11 या 12 अगस्त कब मनाया जाएगा रक्षाबंधन ? Date का कंफ्यूजन करें दूर, इस दिन ना करें राखी बांधने की गलती

Raksha Bandhan 2022 Date
Raksha Bandhan 2022 Date

Raksha Bandhan 2022 Date : 11 या 12 अगस्त कब मनाया जाएगा रक्षाबंधन ? Date का कंफ्यूजन करें दूर, इस दिन ना करें राखी बांधने की गलती :Raksha Bandhan Date 2022, Raksha Bandhan Kab Hai, रक्षाबंधन कब है, रक्षाबंधन किस दिन है, रक्षाबंधन किस तारीख को है, रक्षाबंधन डेट 2022, रक्षा बंधन मुहूर्त, रक्षा बंधन शुभ मुहूर्त, raksha bandhan, Raksha Bandhan Muhurat, Raksha Bandhan Shubh Muhurat – पूर्णिमा की तिथि और भ्रदा के साथ होने के कारण इस बार Raksha Bandhan 2022 Date पर पंडितों में ऊहापोह की स्थिति है.

सरकारी नौकरियों, रिजल्ट, एडमिट कार्ड, योजनाओं की अपडेट सबसे पहले पाने के लिए आप हमारे व्हाट्सएप ग्रुप या टेलीग्राम ग्रुप से जुड़ सकते हैं – Join Telegram Group | Join Whatsapp Group

Raksha Bandhan 2022 Date

Raksha Bandhan 2022 Date

सरकारी नौकरी और शिक्षा से संबंधित खबरों की अपडेट सबसे पहले पाने के लिए यहाँ क्लिक करें : Click Here

रक्षाबंधन को लेकर सभी पंडित में नहीं है एकमत

आपको बता दें की कुछ पंडित कल यानि 11 August, 2022 की रात्रि भद्रा समाप्त होने के बाद रक्षाबंधन (Raksha Bandhan) की बात कह रहे हैं, तो अधिकतर का मानना है कि रात में रक्षा बंधन Raksha Bandhan नहीं होता. इस कारण 12 August, 2022 को पूर्णिमा की तिथि तक रक्षाबंधन (Raksha Bandhan) किया जा सकता है. हालांकि इस दिन भी Raksha Bandhan को लेकर सभी पंडित एकमत नहीं हैं. वहीं कुछ पंडित पूर्णिमा की तिथि होने तक राखी बांधने की बात कह रहे हैं, तो कुछ का कहना है कि उदयाकाल में पूर्णिमा तिथि है, इसलिए उस दिन सूर्यास्त तक Raksha Bandhan होना चाहिए.

हमारे WhatsApp ग्रुप से जुड़ने के लिए यहाँ क्लिक करें : Click Here

महावीर और ऋषिकेश पंचांग के अनुसार

महावीर और ऋषिकेश पंचांग के अनुसार, सावन मास की पूर्णिमा तिथि का प्रारंभ 11 August, 2022 की सुबह 9:35 AM बजे से होगा और इसका समापन अगले दिन 12 August, 2022 की सुबह 07:16 AM बजे होगा. आपको बताते चलें की महावीर औरऋषिकेश पंचांग के अनुसार, भद्राकाल भी 11 August, 2022 की सुबह पूर्णिमा के साथ सुबह 09:35 AM बजे से शुरू होगा और रात्रि 08:25 PM बजे तक रहेगा. वहीं कल यानि 11 August, 2022 को सूर्योदय में पूर्णिमा नहीं होने के कारण 12 August, 2022 को सुबह 07:00 AM बजे से पहले बहनें अपने भाइयों को राखी बांध (Raksha Bandhan 2022 Date) सकती हैं.

यह भी पढ़ें:

पूर्णिमा तिथि तक बांधी जायेगी राखी

स्वामी वेंकटेशाचार्य ने बताया काशी के पंचांग के अनुसार Raksha Bandhan 12 August, 2022 को होगा. जब तक पूर्णिमा तिथि है, तब तक बहनें भाइयों को राखी बांध (Raksha Bandhan 2022 Date) सकती है. उन्होंने बताया की इसके अलावा श्रावणी – कर्म भी किया जा सकता है. (Raksha Bandhan 2022 Date) कल यानि 11 August, 2022 को रक्षाबंधन का मुहूर्त नहीं है, भ्रदा भले ही रात में समाप्त होगा, लेकिन जब पूर्णिमा 12 August, 2022 की सुबह तक है, तो रक्षाबंधन 11 August, 2022 को करने का कोई मतलब नहीं है.

12 अगस्त की सुबह 07:16 बजे तक रक्षाबंधन

आचार्य चंद्र प्रकाश त्रिपाठी ने बताया की ज्योतिष शास्त्र के अनुसार सावन मास की पूर्णिमा तिथि की शुरुआत कल यानि 11 August की सुबह 09:35 AM बजे से शुरू होकर 12 August की सुबह 07:16 AM बजे तक होगा. कल यानि 11 August, 2022 को पूर्णिमा सूर्योदय में नहीं होने के कारण 12 August, 2022 की सुबह 7 बजे से पहले बहनें अपने भाइयों को राखी बांध सकती हैं. इसके बाद पूर्णिमा तिथि समाप्त हो जायेगी.

11 अगस्त को रक्षाबंधन का शुभ मुहूर्त

ज्योतिषाचार्य पं. प्रभात मिश्र ने बताया की इस साल 11 August, गुरुवार को रक्षाबंधन का त्योहार मनाया जायेगा. उन्होंने बताया की Raksha Bandhan पर इस साल सुबह 09:35 AM बजे से भद्रा का साया है, इसलिए रक्षाबंधन (Raksha Bandhan 2022 Date) भद्रा खत्म होने के पश्चात मनाया जायेगा. उन्होंने बताया की राखी बांधने शुभ मुहूर्त रात्रि 08:26 PM बजे से रात्रि 10:12 PM बजे तक है. वहीं निर्णय सिंधु ग्रंथ के अनुसार कल यानि 11 August, 2022 को ही Raksha Bandhan होना चाहिए.

12 अगस्त को सुबह से सूर्यास्त तक होगा रक्षाबंधन

आचार्य अभिनय पाठक ने बताया की रक्षाबंधन (Raksha Bandhan 2022 Date) भद्रा में नहीं किया जा सकता. इस कारण 12 August, 2022 को रक्षाबंधन (Raksha Bandhan 2022 Date) किया जायेगा. रक्षाबंधन सूर्योदय कालिक पूर्णिमा में हो रहा है, इसलिए सुबह से शाम तक Raksha Bandhan हो सकता है. उन्होंने बताया की सूर्यास्त तक बहनें भाइयों को रक्षा सूत्र बांध सकती हैं. इसमें किसी तरह का संशय नहीं है.

Important Links

सरकारी योजनाओं की अपडेट सबसे पहले पाने के लिए यहाँ क्लिक करेंClick Here
Join WhatsApp GroupClick Here
Join On TelegramClick Here
Home PageClick Here
WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now
Join TelegramJoin WhatsApp